मैथ का टीचर निकला खूंखार आतंकी

पटना (गया)।  बिहार के गया जिले से पुलिस ने अहमदाबाद में वर्ष 2008 के आतंकी विस्फोट के मुख्य आरोपी तौसीफ खां उर्फ अतीक सहित तीन संदिग्धों को कल रात धर दबोचा। अपर पुलिस महानिदेशक :मुख्यालय: संजीव कुमार सिंघल ने आज बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर 2008 के अहमदाबाद विस्फोट के मुख्य आरोपी तौसीफ खां उर्फ अतीक और सना खां को पुलिस ने कल रात गया के सिविल लाईन थाना क्षेत्र स्थित साईबर कैफे से गिरफ्तार किया। बाद में उसके सहयोगी को भी गिरफ्तार किया।

स्कूल टीचर बन कर छिपा था
उन्होंने बताया कि गुजरात निवासी तौसीफ अहमदाबाद में आतंकी विस्फोट के बाद से छद्म नाम से ​गया जिले के डोभी थानांतर्गत करमौनी गांव में मैथ टीचर के रूप से रह रहा था।  सिंघल ने बताया कि करमौनी गांव में तौसीफ को स्कूल में नौकरी दिलाने में सना खां ने मदद की थी।  उन्होंने कहा कि पूछताछ के दौरान इनके एक संपर्क सूत्र सरवर खां के बारे में पुलिस को पता चला जिसे गिरफ्तार कर लिया गया। सरवर गया जिले के बोधगया थाना अंतर्गत सहदेब खाप गांव निवासी हैं।

सिंघल ने बताया ​कि तीनों गिरफ्तार लोगों से एनआईए, रॉ, एटीएस, विशेष शाखा और एसटीएफ द्वारा पूछताछ जारी है। उन्होंने बताया कि गुजरात एटीएस को तौसीफ की गिरफ्तारी की सूचना दे दी गयी है और उनके गया पहुंचने पर यहां प्राथ​मिकी दर्ज कर अग्रतर कार्रवाई के लिए उनके हवाले कर दिया जाएगा।

सिंघल ने बताया कि तौसीफ के पास एक पेन ड्राईव ​मिली है। उन्होंने बताया कि तौसीफ साईबर कैफे में जिस कम्प्यूटर पर र्सिफंग कर रहे थे। उस कम्प्यूटर के साथ उनके मोबाईल फोन की जांच कर ली गई है।  गया से प्राप्त जानकारी के अनुसार गया के सिविल लाइंस थाना अंतर्गत राजेन्द्र आश्रम मुहाला में स्थित एक साइबर कैफे में दो संदिग्धों के आपत्तिजनक पोस्ट करते देखकर उसके मालिक ने इसकी सूचना सिविल लाईन थाने को दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *